आतंक आरोपियों की खुल रही चार्जशीट, आजमगढ़ एक बार फिर चर्चा में, ख़ुफ़िया एजेंसियां सक्रिय

आतंक आरोपियों की खुल रही चार्जशीट, आजमगढ़ एक बार फिर चर्चा में, ख़ुफ़िया एजेंसियां सक्रिय
Spread the love

आज़मगढ़ : आतंकी वारदातों में शामिल जिले के कई आतंक आरोपियों की चार्जशीट खुलने के बाद एक बार फिर न केवल आजमगढ़ चर्चा में है बल्कि अब खुफिया तंत्र के साथ पुलिस की नजर भी इन पर है। खुफिया एजेंसी के टार्गेट पर आजमगढ़ में चार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई हो सकती है। वैसे इस मामले में अभी कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है लेकिन ये संदिग्ध आतंकी जिन गांवों से ताल्लुक रखते हैं वहां लोग सहमे हुए हैं। बता दें कि देश में हुए आतंकी वारदातों में आजमगढ़ के युवकों को नाम आया था। बटला इनकाउंटर में संजरपुर के दो युवकों की मौत के बाद से यह जिला लगातार सुर्खियों में रहा। सीरियल बम ब्लास्ट और बटला एनकाउंटर के मामले में सरायमीर थाना क्षेत्र के संजरपुर गांव निवासी फरार संदिग्ध युवकों की सरायमीर थाने की पुलिस ने हिस्ट्रीशीट खोली है। इन संदिग्धों की हिस्ट्रीशीट खुलने के बाद अब पुलिस इनका डोजियर तैयार करते हुए इनकी हर गतिविधि पर नजर रखेगी। जिन की हिस्ट्रीसीट खोली गई है उनमें संजरपुर गांव निवासी शहनवाज, साजिद, अबू राशिद, राशिद उर्फ सुल्तान, शामिल है। इन सभी संदिग्ध की संलिप्तता दिल्ली के ओखला में 19 सितंबर 2008 को हुए बटला एनकाउंटर और दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद, वाराणसी, गोरखपुर आदि शहरों में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में है। सभी संदिग्ध घटना के बाद से ही फरार चल रहे हैं। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने इनकी गिरफ्तारी के लिए तमाम प्रयास किए लेकिन सफलता नहीं मिली। इन आरोपियों के गिरफ्तार न होने पर सभी पर एनआईए की तरफ से 10 -10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया है। अबतक इन आरोपियों की हिस्ट्रीशीट न खुलने की वजह से स्थानीय पुलिस का इनकी गिरफ्तारी सहित अन्य मामलों में कोई हस्तक्षेप नहीं हो पाता था। पुलिस का हस्तक्षेप न होने की वजह से चोरी छिपे आरोपी इसका फायदा उठा रहे थे। इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए अब सभी आरोपियों की हिस्ट्रीशीट खोली गई है। आतंकवाद से जुड़े मामलों की जांच पड़ताल और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अब तक एनआईए और एटीएस की टीम विशेष तौर से काम कर रही थी। इसमें स्थानीय पुलिस का कोई रोल नहीं होता था। लेकिन जैसे ही इन फरार चार आरोपियों का हिस्ट्रीशीट खोला गया, उसके बाद से सरायमीर थाने की पुलिस इनका लोकेशन लेने में जुट गई है। एसपी अजय कुमार साहनी ने बताया कि इन चार आतंकियों की हिस्ट्रीशीट खोलने के बाद सरायमीर और सर्विलांस सेल को इन आरोपियों का लोकेशन लेने और जानकारी इकट्ठा करने के लिए लगाया गया है। पुलिस इनका पता लगाने के लिए इनके नाते, रिश्तेदार सहित अन्य के यहां दबिश देकर और पूछताछ करके इनके लोकेशन और कार्यप्रणाली के विषय में पता लगाने में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *