चार अपराधियों के पकडे जाने के बाद अब गैंग के सरगना की तलाश में जुटी पुलिस, 15 दिनों में वारदातों की संख्या बढ़ाने से चढ़ गए थे पुलिस की नजर में

चार अपराधियों के पकडे जाने के बाद अब गैंग के सरगना की तलाश में जुटी पुलिस, 15 दिनों में वारदातों की संख्या बढ़ाने से चढ़ गए थे पुलिस की नजर में
Spread the love

आज़मगढ़ : जनपद में दो स्थानों पर रविवार को अल्सुबह हुई दो मुठभेड़ों में चार बदमाशों की गिरफ्तारी व दो को गोली लगने से घायल होने के साथ ही मुख्य सरगना के फरार हो जाने का ब्योरा अपर पुलिस अधीक्षक नगर सुभाष चंद गंगवार ने पुलिस लाइन में प्रेस वार्ता के दौरान दिया। यह भी बताया कि यह नए लुटेरों का गैंग है जो पिछले 15 दिनों से ही ज्यादा सक्रिय है। पुलिस लाइन में दो गिरफ्तार बदमाशों को मीडिया के समक्ष पेश किया। एएसपी नगर ने बताया कि थानाध्यक्ष रानी की सराय को सुबह 4 बजे मुखबीर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि बदमाश अमरजीत यादव अपने साथी बदमाष रवि साहू व सोनू उर्फ अबू सूफियान से मिलने गम्भीरपुर थानाक्षेत्र में आ रहा है। इस सूचना पर थानाध्यक्ष रानी की सराय अमित कुमार सिंह मय हमराह द्वारा पटेल नगर के पास स्वयं चेकिंग करने लगे। इसी दौरान आजमगढ़ की ओर से एक मोटरसाईकिल पर सवार तीन व्यक्ति आते हुए दिखाई दिए जिनको रोकने का इशारा करने पर मोटरसाईकिल सवार अचानक तेज गति से भागने लगे जिसपर पीछे बैठे दोनो व्यक्ति गिर गये जिनको थानाध्यक्ष रानी की सराय मय हमराह द्वारा पकड लिया गया, पूछताछ करने पर गिरफ्तार दोनो बदमाशों ने भागे हुए बदमाश का नाम सोनू उर्फ अबू सूफियान तथा अपना नाम अमरजीत यादव पुत्र बचऊ, निवासी-जमकी, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़, रवि साहू पुत्र गुड्डू, निवासीं-गोलाबाजार, मेंहनगर, आजमगढ़ बताया। यह भी बताया कि हम लोग पंकज यादव पुत्र रामवृक्ष यादव, हटवा खालसा, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़ व मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह पुत्र विनय कुमार सिंह, वीरभानपुर, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़ से मिलने जा रहे है। इस सूचना पर थानाध्यक्ष रानी की सराय द्वारा जरिए आर.टी.सेट व टेलिफोन द्वारा प्रभारी निरीक्षक गम्भीरपुर को सूचित किया गया। इस सूचना पर प्रभारी निरीक्षक गम्भीरपुर प्रदीप कुमार चैधरी मय पुलिस टीम द्वारा रसूलपुर, बागबहादूर नहर के पास मेहनगर रोड पर चेकिंग के दौरान आजमगढ़ की जा रहे मोटरसाईकिल सवार दो व्यक्तियों को रोकने का इशारा करने पर पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत फायरिंग कर भागने लगे जिसपर पुलिस टीम द्वारा आत्मरक्षार्थ जवाबी फायरिंग में गाडी पर पीछे बैठे बदमाश पंकज यादव पुत्र रामवृक्ष यादव, हटवा खालसा, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़ के पैर में गोली लग गयी। जिसके कब्जे से एक अद्द पिस्टल 32 बोर, 02 खोखा कारतूस 32 बोर, 01 जिन्दा कारतूस 32 बोर, लूट का 5500 रूपया बरामद किया गया। मोटरसाईकिल चला रहा बदमाश रानी की सराय की ओर भाग गया। प्रभारी निरीक्षक गम्भीरपुर द्वारा थानाध्यक्ष रानी की सराय को बताया गया कि भागने वाले बदमाश के पास अवैध असलहा व कारतूस है जिस पर थानाध्यक्ष रानी की सराय द्वारा चेक पोस्ट के आगे आजमगढ़ पब्लिक स्कूल के पास नहर पुलिया पर चेकिंग की जाने लगी, एक मोटरसाईकिल सवार व्यक्ति गम्भीरपुर की ओर से आता दिखाई दिया जिसको रूकने का इशारा करने पर मोटरसाइकिल सवार ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दिया। जिसमें थाना-रानी की सराय के आरक्षी मनोज शर्मा घायल हो गये, पुलिस टीम द्वारा जवाबी कार्यवाही में बदमाश के पैर में गोली लगी। घायल बदमाश को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय भेजा गया जहां से चिकित्सक द्वारा घायल आरक्षी व बदमाष को बीएचयू वाराणसी रेफर किया गया। घायल बदमाष जिसकी पहचान मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह पुत्र विनय कुमार सिंह, वीरभानपुर, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़ के रूप में हुयी। इसके पास से एक अद्द पिस्टल 32 बोर, 01 अद्द खोखा कारतूस, 01 अद्द जिन्दा कारतूस, एक अद्द मोटरसाईकिल सुपर स्प्लेंडर बरामद किया गया। गिरफ्तार चारों अभियुक्तों से पूछताछ करने पर बताया कि हम सभी ने रानी की सराय क्षेत्र में जन सेवा केन्द्र के व्यापारी से 01 लाख 10 हजार रूपये की लूट की घटना की गयी थी तथा थाना-गम्भीरपुर में एक व्यक्ति से 30 हजार की लूट, थाना-गम्भीरपुर के गोसाई की बाजार में 30 हजार की लूट, थाना-गम्भीरपुर के बसिरहा के पास में 1 लाख 50 हजार की लूट में असफल होने पर व्यापारी को गोली मारने की घटना, थाना-सिधारी में पल्हनी रेलवे क्रासिंग पर 60 हजार की लूट की घटनाओ सहित जनपद बलिया, मऊ, गाजीपुर व आस-पास कें जनपदों में लूट,छिनैती की घटनाओं को अंजाम देना स्वीकार किया। उपरोक्त गिरफ्तार चारों अभिुक्त 25-25 हजार के शातिर ईनामिया व अन्तरजनपदीय अपराधी हैं। गिरफ्तार अभियुक्तगण में
1. अमरजीत यादव पुत्र बचऊ, निवासी-जमकी, थाना-मेंहनगर, आजमगढ। 2. रवि साहू पुत्र गुड्डू, निवासीं-गोलाबाजार, मेंहनगर, आजमगढ़। 3. पंकज यादव पुत्र रामवृक्ष यादव, हटवा खालसा, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़। (मुठभेंड में घायल) व 4. मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह पुत्र विनय कुमार सिंह, वीरभानपुर, थाना-मेंहनगर, आजमगढ़।(मुठभेंड में घायल) हैं। इनके आपराधिक इतिहास में
1. मु.अ.स. 68/18 धारा 392 भा.द.वि., थाना-सिधारी, आजमगढ़। 2. मु.अ.स. 43/18 धारा 392 भा.द.वि., थाना-रानी की सराय, आजमगढ़। 3. मु.अ.स. 68/18 धारा 392 भा.द.वि., थाना-गम्भीरपुर, आजमगढ़। 4. मु.अ.स. 71/18 धारा 394/511 भा.द.वि., थाना-गम्भीरपुर, आजमगढ़।
5. छप्स्/18 धारा 41/411 भा.द.वि., थाना-रानी की सराय, आजमगढ़। 6. मु.अ.स. 45/18 धारा 307 भा.द.वि., थाना-रानी की सराय, आजमगढ़। 7. मु.अ.स. 46/18 धारा 3/25/27 आम्र्स एक्ट,थाना-रानी की सराय, आजमगढ़। 8. मु.अ.स. 78/18 धारा 307 भा.द.वि., थाना-गम्भीरपुर, आजमगढ़। 9. मु.अ.स. 79/18 धारा 3/25/27 आम्र्स एक्ट,थाना-गम्भीरपुर, आजमगढ़ हैं।
बरामदगी में 1. 02 अद्द पिस्टल 32 बोर। 2. 03 अद्द खोखा कारतूस 32 बोर। 3. 02 अद्द जिन्दा कारतूस 32 बोर। 4. सभी अभियुक्तों से लूट का लगभग 25000 रूपया व 5. 01 अद्द मोटरसाईकिल सुपर स्प्लेंडर है। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक गम्भीरपुर प्रदीप कुमार चौधरी मय हमराह व
थानाध्यक्ष रानी की सराय अमित कुमार सिंह मय हमराह हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *