निषाद पार्टी ने याद दिलाया भाजपा को भूला हुआ वादा

आजमगढ़ : निषाद समाज को 2019 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वादा किया था कि जैसे ही हमारी सरकार माननीय मोदी जी दोबारा प्रधानमंत्री की शपथ लेंगे आप लोगों का आरक्षण लागू कर दिया जाएगा जो भी विसंगति है उसको दूर करके माननीय मुख्यमंत्री जी अपना वादा भूलने लगे हैं अतः निषाद पार्टी उनको याद दिला रही है कि निषाद समाज को जल्द से जल्द आरक्षण नहीं मिला तो 2022 में जिसका खामियाजा भाजपा को भुगतना पड़ेगा अब निषाद समाज जाग चुका जो धोखा देगा वह धोखा खाएगा राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर संजय निषाद जी मछुआ समुदाय के अगुआ और निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर और जिला अध्यक्ष अनिल निषाद जी के आवाहन पर पूरी निषाद पार्टी आजमगढ़ यूनिट 17 पिछड़ी जातियों की लड़ाई लड़ने के लिए संकल्पित है ।डॉक्टर संजय निषाद के आवाहन पर प्रदेश के सभी जिला अधिकारियों  का घेराव किया गया और इनके माध्यम से मछुआ समुदाय का जल्द आरक्षण देने के संदर्भ में माननीय प्रधानमंत्री जी ,गृहमंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा ,मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन दिया गया ।वही 1857 की आजादी की लड़ाई को याद करते हुए मछुआ समुदाय राजनीतिक आजादी के लिए मछुआ अनुसूचित जाति आरक्षण के वादे को याद दिलाया ,साथ ही 25 सितंबर को जंतर मंतर पर सांकेतिक धरना प्रदर्शन और कर बताया जाएगा कि मछुआ समुदाय संविधान के अनुसूचित जाति में अंकित से मजबूर सुरैया ,खरवार ,बेलदार ,फ्रूट, कोली की पर्यायवाची जातियां हैं। जून 1992 से पहले अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र मिलता था निषाद, केवट ,मल्लाह ,बीन ,माझी, कश्यप ,धीमा ,रैकवार समाज को अनुसूचित जाति का आरक्षण मिले ,जिसके लिए निषाद पार्टी द्वारा लगातार ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *